8वीं बार संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद का अस्थाई सदस्य बना भारत, निर्विरोध जीता चुनाव

8वीं बार संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद का अस्थाई सदस्य बना भारत, निर्विरोध जीता चुनाव

बुधवार को संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद की सदस्यता के लिए चुनाव हुए थे और इस चुनाव में भारत की निर्विरोध जीत हुई। इस जीत के साथ भारत संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद का अस्थाई सदस्य बन गया। भारत संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद में अगले 2 सालों के लिए अस्थाई सदस्य की भूमिका अदा करेगा। आपको बता दें इससे पहले भारत 7 बार संयुक्त राष्ट्र रक्षा परिषद का अस्थाई सदस्य बन चुका है और भारत को 8वीं बार फिर जिम्मेदारी मिली है। भारत को 192 में से 184 वैध वोट मिले हैं। जिसके चलते भारत की निर्विरोध जीत हुई।

सबसे पहले 1950 में भारत संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद का अस्थाई सदस्य बना था। संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद में कुल 15 देश है जिसमें से 5 स्थाई देश है हैं, जिनके पास वीटो पावर है । यह 5 स्थाई देश हैं अमेरिका, रूस, फ्रांस, ब्रिटेन और चीन। इसके अलावा बाकी के 10 अस्थाई सदस्यों के लिए हर 2 साल में चुनाव होते हैं। इसके पहले 1950-51, 1967-68, 1972-73, 1977-78, 1984-85, 1991-92 और 2011-12 में भारत संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद में अपनी जिम्मेदारी निभा चुका है।

 

एशिया-प्रशांत क्षेत्र से अस्थायी सीट के लिए भारत 2021-22 के कार्यकाल एकमात्र अकेला उम्मीदवार था। भारत की जीत इसलिए भी सुनिश्चित थी, क्योंकि क्षेत्र की एकमात्र सीट के लिए वह अकेला उम्मीदवार है। पिछले साल जून में चीन और पाकिस्तान समेत 55 सदस्यीय एशिया-प्रशांत समूह ने समर्थन किया था। 15 सदस्यीय परिषद में पांच अस्थायी सीट में से एक के लिए भारत का चुनाव किया गया है। हालांकि, संयुक्त राष्ट्र में कुछ राजनयिकों ने इसके लिए काफी आंतरिक प्रयास किए हैं।

 

अमेरिका ने भारत को दी बधाई

जैसे ही भारत 8 वीं बार संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद का अस्थाई सदस्य बना देश में खुशी की लहर दौड़ गई। उधर अमेरिका ने भारत को बधाई देते हुए कहा कि “हम भारत का गर्मजोशी से स्वागत करते हैं और संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद में सफल चुनाव के लिए बधाई देते हैं। अमेरिका की ओर से जारी बयान में बताया गया है कि हम अंतरराष्ट्रीय शांति और सुरक्षा के मुद्दों पर साथ काम करने के लिए उत्साहित हैं, जो भारत और अमेरिका के बीच सहभागिता की वैश्विक रणनीति है।”

Share this story