Connect with us

समाचार

चक्रवाती तूफ़ान निसर्ग से ज्यादा नुक़सान नहीं हुआ महाराष्ट्र में ।

Published

on

Nisarg cyclone 01

हाल ही में मौसम विभाग ने भारत के पश्चिमी तट स्थित  राज्य महाराष्ट्र के कई जिलों जैसे ठाणे, रायगढ़ और पालघर और गुजरात के वलसाड, नवसारी, सूरत, भावनगर, भरुच ज़िलों तथा दादरा नगर हवेली और दमन एवं दीव में  चक्रवाती तूफ़ान निसर्ग आने को आशंका जताई गई थी।

वही आज दोपहर 1बजे के बीच ने देश में प्रवेश किया लेकिन जिन जिन जगहों में इस चक्रवाती तूफान ने दस्तक दी  वह ज्यादा नुक़सान नहीं हुआ है। ये तूफ़ान सबसे पहले अलीबाग से टकराया और वहां 4 मीटर तक की लंबी ऊंची लेहेरे उठी। लेकिन इस से मुंबई के रायगढ़ को भारी तबाही का सामना करना पड़ा।

देखिए कहा कहा किस रफ़्तार से आया चक्रवाती तूफ़ान निसर्ग

अलीबाग

इस एरिया 100 से 120 किलोमीटर के प्रति घंटे की रफ्तार से हवा चल रही है। जिसके कारण बहुत सारे पेड़ जड़ों से उखड़ गए।

उरण

यहां पर हवा की रफ़्तार इतनी तेज़ी से है कि लोगो के घरों के ऊपर लगे टीनशेड अपनी जगह से उखड़ गए और तेजी के साथ जमीन पर आ गिरे।

रायगड

इस चक्रवाती तूफान के कारण रायगड में खूब तबाही मचाई। और साथ ही घरों के आगे लगे टीनशेड कागज के पत्तों की तरह उखड़ गए। वही सड़कों पर पेड़ों के गिरने का मंजर भयभीत था। साथ ही सड़कों के किनारे लगे होर्डिंग अपनी जगह से उखड़ गए।

रत्नागिरी

सोशल मीडिया पर रत्नागिरी का एक छोटा सा वीडियो वायरल हो रहा है जिसमें नाविक कहते दिखे कि आधे जहाज में पानी भर गया है और हमारी मदद कीजिए।

ये भयानक तूफ़ान तो टाल गया लेकिन अपने पीछे तबाही छोड़ गया जिससे उबरने में महाराष्ट्र के शहरों को लंबा समय लगेगा।

Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

मनोरंजन

भूमि पेडनेकर ने सुशांत को श्रद्धांजलि देने के लिए खिलाएंगी गरीबों को खाना

Published

on

सुशांत सिंह राजपूत की मौत ने पूरे देश को काफी झकझोर कर रख दिया है। सुशांत सिंह राजपूत की मौत को दो हफ्ते हो चुके हैं। लेकिन यह दुख इतना गहरा है कि लोग इससे उबर नहीं पा रहे हैं। मुंबई मिरर की एक रिपोर्ट के अनुसार अभिनेत्री भूमि पेडनेकर, जिन्हें ‘सोनचिरैया’ में सुशांत सिंह राजपूत के साथ देखा गया था, ने सुशांत को श्रद्धांजलि के रूप में गरीब परिवारों को भोजन प्रदान करने का संकल्प लिया। अपने सोशल मीडिया पे ये जानकारी शेयर करते हुए उन्होंने बताया की वो ‘एक साथ – द अर्थ फाउंडेशन’ की मदद से ये करने वाली हैं ।

 

भुमी ने इंस्टाग्राम पर लिखा , “सुशांत सिंह राजपूत की याद में, मैं ‘एक साथ फाउंडेशन’ की मदद से 550 गरीब परिवारों को खाना खिलाने की प्रतिज्ञा करती हूं। आइए सभी के प्रति दया और प्रेम दिखाएं।” भूमि ने पहले उनकी मृत्यु पर शोक व्यक्त किया और सोनचिरैया के सेट से उनके साथ एक थ्रोबैक फोटो शेयर करते हुए लिखा, “रेस्ट इन पीस, मेरे दोस्त शॉकेड एंड हार्टब्रोकन।  अभी भी विश्वास नहीं हो रहा सितारों को साथ देखने से लेकर हमारी एंडलेसचैट्स तक मैं तुम्हे वहां सबके साथ चमकते हुए देखूंगी क्यूंकि तुम सच में एक सितारे हो और हमेशा रहोगे, मेरे प्यार एसएसआर  “उन्होंने ‘काई पो चे’ अभिनेता के लिए एक सुंदर और लंबी पोस्ट भी शेयर की थी।‌ उन्होंने इंस्टाग्राम पर पोस्टर शेयर करके अभिनेता की अंतिम फिल्म ‘दिल बेचारा’ का प्रमोशन किया। यह फिल्म 24 जुलाई से डिज्नीप्लसहॉटस्टार पर स्ट्रीम करने के लिए तैयार है।

v

Continue Reading

उत्तर प्रदेश

उत्तर प्रदेश के सभी राज्य विश्वविद्यालय की परीक्षा रद्दद, छात्रों को किया गया प्रमोट

Published

on

कोरोना संक्रमण के प्रकोप को देखते हुए उत्तर प्रदेश सरकार की तरफ। सभी छात्राओं को पास कर दिया जाएगा। परीक्षाओं के आयोजन को लेकर एक बैठक की गई थी, जिसमें मेरठ विश्वविद्यालय के कुलपति प्रोफेसर तनेजा की अध्यक्षता में समिति में एक रिपोर्ट सौंपी गई। सरकार ने सभी विश्वविद्यालयों को बच्चों को प्रमोट करने का समान फार्मूला तय करने के लिए कहा है। उत्तर प्रदेश में 18 राज्य विश्वविद्यालयों और महाविद्यालयों के 48 लाख से अधिक विद्यार्थियों पर इसका असर होगा।

समिति ने अपनी रिपोर्ट उपमुख्यमंत्री डॉ. दिनेश शर्मा को सौंप दी, और इस साल विश्वविद्यालयों की परीक्षाएं नहीं कराने, सभी विद्यार्थियों को बिना परीक्षा के ही प्रमोट किए जाने का सुझाव दिया।  समिति का कहना है कि कोरोनावायरस का संक्रमण लगातार बढ़ता जा रहा है। ऐसे में इतने सारे स्टूडेंट्स के साथ सोशल डिस्टेंसिंग के माध्यम से परीक्षा दिलवाना काफी असंभव महसूस होता है।परीक्षाएं कराने से कोरोना संक्रमण फैलने का खतरा और भी ज्यादा बढ़ सकता है ‌।

समिति ने दूसरे राज्यों के तर्ज पर यूपी में भी विश्वविद्यालय की परीक्षा नहीं कराने का निर्णय लिया है और बिना परीक्षा के सब छात्राओं को प्रमोट करने का सुझाव भी पेश किया है। डॉ दिनेश ने समिति के अध्यक्ष से कहा कि विश्वविद्यालय में कई परीक्षाएं संपन्न हो गई थी तो कुछ विश्वविद्यालयों में कुछ ही परीक्षाएं हो पाई थी।उन्होंने समिति को सभी विश्वविद्यालयों की स्थिति के अनुसार विद्यार्थियों को प्रमोट करने का सुझाव तैयार करने को कहा है।

Continue Reading

मनोरंजन

सुशांत को सलामन की तरफ से मिल रही थी लगातार धमकियां, इसलिए सुशांत ने 1 महीने में 50 बार बदला सिम कार्ड: लोकगायक सुनील छैला

Published

on

अभिनेता सुशांत सिंह राजपूत की मौत के मामले में रोज नए – नए खुलासे हो रहे हैं। अभिनेता की मौत को नेपोटिज्म और बॉलीवुड में कुछ विशेष एकाधिकार को शामिल करके देखा जा रहा है। इस बीच, बिहार के लोक गायक सुनील छैला बिहारी ने सुशांत सिंह राजपूत मरने के मामले में अभिनेता सलमान खान के ख़िलाफ़ में गंभीर आरोप लगाए हैं।

सुनील छैला बिहारी ने यूट्यूब पर एक वीडियो संदेश जारी कर आरोप लगाया है कि सुशांत सिंह राजपूत को पिछले एक महीने से धमकी मिल रही थी। उन्होंने उल्लेख किया कि सुशांत सिंह राजपूत पिछले कुछ महीनों से बहुत परेशान थे। सुशांत ने एक महीने में लगभग 50 सिम कार्ड बदले।

सुनील छैला बिहारी ने आरोप लगाया कि सिम कार्ड बदलने के बाद भी धमकियां खत्म नहीं हुईं। लोकनायक ने आरोप लगाया है कि सुशांत का दोस्त संदीप सिंह धमकी देने वाले गिरोह यानि सलमान खान और गैंग को नए सिम कार्ड की सूचना देता था। सलमान खान अपने गुंडों से सुशांत को लगातार धमकियां भिजवाता था। इससे बचने के लिए, सुशांत सिंह राजपूत ने आत्महत्या कर ली। माना जा रहा है कि मामले को सीबीआई जांच की जरूरत है।

सुशांत सिंह राजपूत मामले में जांच पूरी तरह से चल रही है और मुंबई पुलिस पहले ही अभिनेता के कर्मचारियों, दोस्तों और करीबी सहयोगियों के बयान दर्ज कर चुकी है। मुंबई पुलिस सुशांत सिंह के करीबी दोस्त रिया चक्रवर्ती के भाई और सुशांत की कंपनी के डायरेक्टर शोविक चक्रवर्ती से भी पूछताछ कर रही है। शोविक चक्रवर्ती और रिया चक्रवर्ती दोनों को सुशांत की तीन स्टार्टअप कंपनियों में निदेशक और अतिरिक्त निदेशक के रूप में नामित किया गया था। राजपूत ने कथित तौर पर मुंबई में अपने बांद्रा स्थित आवास पर अपनी जान ले ली। आरोप है कि अभिनेता का पिछले छह महीने से डिप्रेशन का इलाज चल रहा था।

Continue Reading

Most Popular