Connect with us

शहर और राज्य

भारत के 5 राज्यो में तेज़ी से बढ़ रहा कोरोना मरीजों के मौत के अकड़े

Published

on

आज देश में कोरोना एक्टिव मरीजों की संख्या 2.37 लाख हो गई है। जिनमें से 1.14 लाख मरीज़ रिकवर हो चुके है और 6,845 डैथस हो चुकी है ।  केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय के अनुसार अब तक कोरोना वायरस से पांच राज्यों में तेज़ी से बढ़ रहे मौत के अकड़े। ये राज्य है में दिल्ली, उत्तर प्रदेश, तमिलनाडु, तेलंगाना और पश्चिम बंगाल है। जिन में अब मरने वालों की संख्या में तेज़ी होने लगी है। अब ये राज्य भी महाराष्ट्र, गुजरात, मध्य प्रदेश और राजस्थान जैसे राज्यो में शामिल हो चुके हैं। सबसे ज्यादा खराब हालत देश की राजधानी दिल्ली की हो रही है। यहां अब रोजाना मरने वालों का आंकड़ा 50 से अधिक हो गई है।

जानिए किस राज्य में हुईं कितनी मौते?

मुंबई-1,577

अहमदाबाद-994

पुणे-400

कोलकाता-247

ठाणे-322

चेन्नई-179

इंदौर-149

जयपुर-102

जलगांव-109

सोलापुर-94

सूरत-78

औरंगाबाद-92

नासिक-88

भोपाल-61

उज्जैन-59

रायगढ़-55

जानें अपने राज्य का हाल

आंध्र प्रदेश – 3,569

अंडमान निकोबार – 33

अरुणाचल प्रदेश – 4

असम – 1,185

बिहार – 3,636

चंडीगढ़ – 289

छत्तीसगढ़ – 447

दादर नागर हवेली – 2

दिल्ली – 18,549

गोवा – 70

गुजरात – 16,343

हरियाणा – 1,923

हिमाचल प्रदेश – 313

जम्मू-कश्मीर – 2,341

झारखंड – 563

कर्नाटक – 2,922

केरल – 1,208

लद्दाख – 74

मध्य प्रदेश – 7,891

महाराष्ट्र 65,168

मणिपुर – 62

मेघालय – 27

मिजोरम – 1

ओडिशा – 1,819

पुडुचेरी – 51

पंजाब – 2,233

राजस्थान – 8,617

तमिलनाडु – 21,184

तेलंगाना – 2,499

त्रिपुरा – 268

उत्तराखंड – 749

उत्तर प्रदेश – 7,445

पश्चमि बंगाल – 5,130

 

अभी तक कुल मौतें

महाराष्ट्र- 2,969

गुजरात-1,219

मध्यप्रदेश-384

पश्चिमबंगाल-383

राजस्थान-219

दिल्ली-708

उत्तरप्रदेश-257

आंध्रप्रदेश-73

तमिलनाडु-254

तेलंगाना-113

कर्नाटक-59

पंजाब-50

जम्मू-कश्मीर-39

हरियाणा-24

बिहार-29

ओडिशा-10

झारखंड-07

हिमाचलप्रदेश-06

चंडीगढ़-05

केरल-16

असम-04

उत्तराखंड-11

मेघालय-01

छत्तीसगढ़-04

लद्दाख-01

कुल-6,845

 

Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

उत्तर प्रदेश

उत्तर प्रदेश के सभी राज्य विश्वविद्यालय की परीक्षा रद्दद, छात्रों को किया गया प्रमोट

Published

on

कोरोना संक्रमण के प्रकोप को देखते हुए उत्तर प्रदेश सरकार की तरफ। सभी छात्राओं को पास कर दिया जाएगा। परीक्षाओं के आयोजन को लेकर एक बैठक की गई थी, जिसमें मेरठ विश्वविद्यालय के कुलपति प्रोफेसर तनेजा की अध्यक्षता में समिति में एक रिपोर्ट सौंपी गई। सरकार ने सभी विश्वविद्यालयों को बच्चों को प्रमोट करने का समान फार्मूला तय करने के लिए कहा है। उत्तर प्रदेश में 18 राज्य विश्वविद्यालयों और महाविद्यालयों के 48 लाख से अधिक विद्यार्थियों पर इसका असर होगा।

समिति ने अपनी रिपोर्ट उपमुख्यमंत्री डॉ. दिनेश शर्मा को सौंप दी, और इस साल विश्वविद्यालयों की परीक्षाएं नहीं कराने, सभी विद्यार्थियों को बिना परीक्षा के ही प्रमोट किए जाने का सुझाव दिया।  समिति का कहना है कि कोरोनावायरस का संक्रमण लगातार बढ़ता जा रहा है। ऐसे में इतने सारे स्टूडेंट्स के साथ सोशल डिस्टेंसिंग के माध्यम से परीक्षा दिलवाना काफी असंभव महसूस होता है।परीक्षाएं कराने से कोरोना संक्रमण फैलने का खतरा और भी ज्यादा बढ़ सकता है ‌।

समिति ने दूसरे राज्यों के तर्ज पर यूपी में भी विश्वविद्यालय की परीक्षा नहीं कराने का निर्णय लिया है और बिना परीक्षा के सब छात्राओं को प्रमोट करने का सुझाव भी पेश किया है। डॉ दिनेश ने समिति के अध्यक्ष से कहा कि विश्वविद्यालय में कई परीक्षाएं संपन्न हो गई थी तो कुछ विश्वविद्यालयों में कुछ ही परीक्षाएं हो पाई थी।उन्होंने समिति को सभी विश्वविद्यालयों की स्थिति के अनुसार विद्यार्थियों को प्रमोट करने का सुझाव तैयार करने को कहा है।

Continue Reading

दुनिया

बिहार में चीनी कंपनी से भारत सरकार ने छीना मेगा प्रोजेक्ट

Published

on

पूर्वी लद्दाख में भारत-चीन सीमा पर हुई हिंसक झड़प में 20 भारतीय सैनिकों शहीद हुए थे और कई घायल भी हुए थे।इस झड़प के बाद भारतीयों में काफी क्रोध उत्पन्न हुआ, जिससे देशवासियों ने चीनी सामान का बहिष्कार करने का फैसला लिया। यहां तक ​​कि प्रदर्शनकारियों ने चीनी नेता शी जिनपिंग के पुतले जलाए और चीनी सामानों को नष्ट कर दिया, सरकारी संगठनों ने भी पड़ोसी देश से दूरी बनाने के लिए कदम उठाए। झड़प के तुरंत बाद, भारतीय रेलवे ने बीजिंग नेशनल रेलवे रिसर्च एंड डिज़ाइन इंस्टीट्यूट ऑफ़ सिग्नल एंड कम्युनिकेशन ग्रुप के साथ एक परियोजना को समाप्त करने के लिए “poor progress” का हवाला दिया।उसके बाद, महाराष्ट्र सरकार ने 5020 करोड़ रुपये के तीन चीनी सौदों को रोक दिया।

रविवार को, बिहार के नंद किशोर यादव ने खुलासा किया कि राज्य ने दो ठेकेदारों के टेंडर रद्द कर दिए हैं, जिन्हें पहले एक नए पुल के निर्माण के लिए चुना गया था क्योंकि प्रॉजेक्ट के लिए चुने गए चार कॉन्ट्रैक्टर में से दो के पार्टनर चाइनीज थे। यादव ने एएनआई से कहा, “हमने उनसे अपने साथी बदलने के लिए कहा, लेकिन उन्होंने ऐसा नहीं किया। इसलिए हमने उनका टेंडर रद्द कर दिया”।

संपूर्ण परियोजना की पूंजीगत लागत, जिसमें 5.6 किलोमीटर लंबा पुल, अन्य छोटे पुल, अंडरपास और एक रेल ओवरब्रिज शामिल हैं, अनुमानित 2,900 करोड़ रुपये से अधिक था। 16 दिसंबर, 2019 को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की अध्यक्षता में आर्थिक मामलों पर केंद्र सरकार की कैबिनेट समिति द्वारा परियोजना को मंजूरी दे दी गई थी। अधिकारियों ने कहा कि प्रस्तावित पुल को गंगा नदी के पार महात्मा गांधी सेतु के पास बनाया जाना था , एक मेगा ब्रिज  के रूप में । जिससे पटना, सारण और वैशाली जिले के लोगों को मदद मिलती। चीन के दोहरे चरित्र को देखते हुए भारत सरकार ने चीनी कंपनियों से ऐसे कई बड़े करार रद्द किए है

Continue Reading

उत्तर प्रदेश

UP Boar Result 2020: यूपी के होनहारों ने गाड़े झंडे, 10वीं में 83.31 फीसदी और 12वीं में 74.63 फीसदी स्टूडेंट्स सफल

Published

on

यूपी बोर्ड हाईस्कूल और इंटर रिजल्ट upmsp.edu.in , upresults.nic.in और upmspresults.up.nic.in पर जारी कर दिया गया है। बोर्ड की परीक्षाओं 2020 में शामिल होने वाले लाखों परीक्षार्थी अपना परीक्षाफल जानने को लेकर बेहद उत्सुक हैं। इनके नतीजे आने से पहले उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने बच्चों का उत्साह बढ़ाया।
डॉ. दिनेश शर्मा ने लखनऊ स्थित लोकभवन के मीडिया सेंटर से नतीजों की घोषणा की। 10वीं में 83.31 फीसदी और 12वीं में 74.63 फीसदी स्टूडेंट्स पास हुए हैं।

बागपत के श्रीराम एसएम अंतर कॉलेज बड़ौत की रिया जैन ने हाईस्कूल में टॉप किया है. रिया ने 96.67% नंबरों के साथ राज्य में पहला स्थान प्राप्त किया है. हाई लखपेड़ाबाग बाराबंकी के अभिमन्यु वर्मा 95.83% अंकों के साथ दूसरे स्थान पर रहे. वो श्री साईं इंटर कॉलेज के छात्र हैं. बाराबंकी के सद्भावना इंटर कॉलेज के योगेश प्रताप सिंह 95.33% अंकों के साथ तीसरे स्थान पर रहे।

इन्होंने लहराया परचम

श्रीराम एसएम अंतर कॉलेज बड़ौत बागपत के अनुराग मलिक 97% अंकों के साथ 12वीं में टॉप पर रहे। प्रयागराज के एसपी इंटर क़लेज सिकरो की  प्रांजल सिंह 96% अंकों के साथ दूसरे और श्री गोपाल इंटर कॉलेज औरैया के उत्कर्ष शुक्ला 94.80 फीसदी अंकों के साथ तीसरे स्थान पर रहे।

प्रेस कॉन्फ्रेंस में दिनेश शर्मा ने कहा कि पहली बार डिजिटल प्रमाणपत्र व अंकपत्र दिए जाएंगे। 3 दिन के अंदर अंकपत्र मिलेंगे। 15 व 30 जुलाई के आसपास सॉफ्टकॉपी मिलने लगेंगी अंकपत्र की। टॉपर्स को एक लाख और लैपटॉप देंगे

डॉ. दिनेश शर्मा ने कहा कि प्रदेश में 52 लाख विद्यार्थियों ने परीक्षा दी थी। परीक्षाफल समय से जारी करना सपना था। कठिन परिस्थितियों में परीक्षा करवाईं। 21 दिनों में कॉपियां जांचना और जल्दी परीक्षाफल घोषित करना महालक्ष्य था।  रिजल्ट पिछले वर्ष से बेहतर है।

Continue Reading

Most Popular