यूपी बोर्ड में असफल हुए छात्रों के लिए खुशखबरी, नहीं देनी पड़ेगी अगले साल परीक्षा

यूपी बोर्ड में असफल हुए छात्रों के लिए खुशखबरी, नहीं देनी पड़ेगी अगले साल परीक्षा

इतने लंबे इंतजार के बाद आज यूपी बोर्ड के 10 वीं और 12 वीं के परीक्षा का परिणाम राज्य के उपमुख्यमंत्री डॉ. दिनेश शर्मा ने लखनऊ स्थित लोकभवन से जारी किया था। आज घोषित होने वाले यूपी बोर्ड रिजल्ट में कई छात्र  सफल रहे तो कई असफल भी हुए होंगे क्योंकि परीक्षा व परीक्षाफल आत्म विश्लेषण का माध्यम मात्र हैं। यदि इस साल इंटर का कोई छात्र किसी एक विषय में भी फेल होता है तो उसे निराश होने की जरुरत नहीं है। दरसअल माध्यमिक शिक्षा विभाग ने असफल छात्रों के लिए कम्पार्टमेंट की व्यवस्था की है, जिसके माध्यम से वे पास हो सकते है। इसके लिए माध्यमिक शिक्षा विभाग में एक आवेदन जमा करना होगा। इच्छुक छात्र इस आवेदन को भर कर उस विषय की फिर से परीक्षा देकर अपना साल बचा सकते हैं।

रिज़ल्ट की घोषाओं से पहले उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ  ने बच्चों का उत्साह बढ़ाया। यूपी बोर्ड के नतीजे आने से पहले सीएम योगी ने ट्वीट करके लिखा, मेरे प्यारे बच्चों,आज यूपी बोर्ड का परीक्षाफल आना है। वैसे परीक्षा व परीक्षाफल आत्म विश्लेषण का माध्यम मात्र हैं।

अतः प्रत्येक परीक्षाफल को सहजतापूर्वक स्वीकार करना ही श्रेष्ठ है। प्रभु श्री राम की कृपा से आप सभी को मनोनुकूल परीक्षाफल की प्राप्ति हो।

यूपी बोर्ड की दसवीं और बारहवीं क्लास के नतीजे आज दोपहर 12 बजे जारी किए गए है। सभी छात्र अपने   परिणाम यूपी बोर्ड की आधिकारिक वेबसाइट upmsp.edu.in, upresults.nic.in और upmspresults.up.nic.in पर देख सकते हैं। इस साल 56 लाख से अधिक छात्र-छात्राओं ने हाईस्कूल और इंटर की परीक्षाएं दी हैं। हालांकि चार लाख से ज्यादा छात्रों ने तो नकल की सख्ती के कारण बीच में ही परीक्षाएं छोड़ दी थी।

यूपी परीक्षा में पास होने के लिए किसी स्टूडेंट को कम से कम 33 फीसदी अंक लाना जरूरी है। सभी विषयों में न्यूनतम प्रतिशत अंक लाकर ही छात्र पास होने के योग्य माने जाते हैं।

 

 

Share this story